Go to Top

लिम्फ़ोइडिमा स्लीव्स-कम्प्रेज़ॉन

Lymphoedema Stockings – Comprezon

लिम्फ़ोइडिमा क्या होता है?

लिम्फ़ोइडिमा में त्वचा के नीचे उपस्थित वसा ऊतकों में लिम्फ़, यानि लसिका, की मात्रा बढ़ जाती है। इससे आपके बाजूओं में सूजन आ जाती है। लिम्फ़ोइडिमा स्टॉकिंग्स संपीड़न स्टॉकिंग्स होते हैं जो लसिका को प्रवाहित करने में मदद करता है जिससे इसका एकत्रिकरण नहीं होता है।

द्वितीयक लिम्फ़ोइडिमा कैंसर के रोगियों में देखी जाती हैं जहाँ ट्यूमर के साथ लसिकापर्वों, यानि लिम्फ़ नोड्स, को निकाल दिया जाता है।

यह अनुमान है कि स्तन के कैंसर का उपचार करवा रही 30% महिलाओं में लिम्फ़ोइडिमा हो जाता है।

लिम्फ़ोइडिमा शल्यचिकित्सा के तुरंत बाद (अल्पकालिक लिम्फ़ोइडिमा) या कई महीनों के पश्चात (दीर्घकालिक) पैदा हो सकता है।

लिम्फ़ोइडिमा स्टॉकिंग्स किस तरह मदद कर सकते हैं?

कम्प्रेज़ोन लिम्फ़ोइडिमा स्टॉकिंग्स और स्लीव्स कुछ इस तरह से मदद करते हैं:

  • फटी हुई लिम्फ़ वाहिकाओं से लसिका के प्रवाह को रोककर
  • फाइब्रोसिस (तंतुमयता) को नरम करके (फाइब्रोसिस में अंग सख्त हो जाता है और रक्त का संचारण बाधित होता है)
  • अंग में लसिका को प्रवाहित करके लिम्फ़ के तरल पदार्थ का एकत्रिकरण रोककर

कम्प्रेज़ोन लिम्फ़ोइडिमा स्टॉकिंग्स और स्लीव्स क्लास 2 (23-32 एमएमएचजी दबाव) और क्लास 3 (34-46 एमएमएचजी दबाव) में उपलब्ध हैं।

हल्के लिम्फ़ोइडिमा के लिए क्लास 2 और गंभीर लिम्फ़ोइडिमा के लिए क्लास 3 का सुझाव दिया जाता है।

कम्प्रेज़ॉन लिम्फ़ोइडिमा स्लीव्स निम्नलिखित स्टाइलों में उपलब्ध हैं:

  • AG (हाथ के साथ बाजू की स्लीव)
  • AGH (हाथ, कंधे की टोपी, बेल्ट के साथ बाजू की स्लीव)
  • CG (हाथ के बिना बाजू की स्लीव)
  • CGH (हाथ, कंधे की टोपी, बेल्ट के साथ बाजू की स्लीव)

 

कम्प्रेज़ॉन लिम्फ़ोइडिमा स्टॉकिंग्स निम्नलिखित स्टाइलों में उपलब्ध है:

  • AD – घुटने के नीचे
  • AF – जाँघों के बीच तक
  • AG – ऊसन्धि तक
  • AGTR – दाईं टांग पर बेल्ट के साथ ऊसन्धि तक
  • AGTL – बाईं टांग पर बेल्ट के साथ ऊसन्धि तक
  • AT – पैन्टी होज़
  • ATM – मातृत्व पैंटी होज़

लिम्फ़ोइडिमा स्टॉकिंग्स में कम्प्रेज़ॉन सर्वोत्तम विकल्प क्यों है?

कम्प्रेज़ॉन सटीक और क्रमिक संपीड़न प्रदान करने के लिए विशेषीकृत यूरोपीय मशीनों से बनाया गया है

कम्प्रेज़ॉन यूरोपीय मानकों के अनुसार बनाया गया है

कम्प्रेज़ॉन निर्यातित स्टॉकिंग्स के मूल्यों की तुलना में लगभग आधे दाम पर अंतरराष्ट्रीय गुणवत्ता प्रदान करता है

भारत में निर्मित अन्य “स्टॉकिंग्स” या तो “सिली” जाती हैं या “नलिदार कपड़ों” की तरह होती हैं। इनसे क्रमिक और सटीक संपीड़न प्राप्त नहीं किया जा सकता। क्रमिक संपीड़न आवश्यक इसलिए है ताकि रक्त टाँगों में वापिस ऊपर की ओर प्रवाहित हो सके। संपीड़न का ग़लत उतार-चढ़ाव रोगी की स्थिति को बिगाड़ सकता है।

कम्प्रेज़ॉन गुणवत्ता, टिकाऊपन और त्वचा के लिए मुलायमपन सुनिश्चित करने के लिए निर्यातित तकनीकी धागों का प्रयोग करता है

सस्ते नकली उत्पादों की तुलना में, कम्प्रेज़ॉन में संपीड़न का सही उतार-चढ़ाव कई महीनों के उपयोग के बाद भी बना रहता है

पूरे देश में लगभग 2000 वितरकों के द्वारा उपलब्ध है

पूरे देश में पूर्ण रूप से प्रशिक्षित कर्मचारीगण उपस्थित है जो आपके सभी सवालों का जवाब दे सकते हैं

 

अस्वीकरण: इस पृष्ठ पर उपलब्ध जानकारी पेशेवर चिकित्सक की सलाह का विकल्प नहीं है। आपकी विशिष्ट स्थिति के लिए सही उत्पादों पर सर्वोत्तम सलाह देने के लिए आपका चिकित्सक ही सबसे योग्य व्यक्ति है।